उत्तरप्रदेशग्रेटर नोएडा

यमुना प्राधिकरण की उदासीनता के कारण नरक में जीने को मजबूर हैं ग्रामीण चौधरी प्रवीण भारतीय

यमुना प्राधिकरण की उदासीनता के कारण नरक में जीने को मजबूर हैं ग्रामीण चौधरी प्रवीण भारतीय

यमुना प्राधिकरण की उदासीनता के कारण नरक में जीने को मजबूर हैं ग्रामीण चौधरी प्रवीण भारतीय

संजीव भाटी ग्रेटर नोएडा

ग्रेटर नोएडा: यमुना प्राधिकरण के अंतर्गत आने वाले गांव जगनपुर अट्टा नौरंगपुर अट्टा फतेहपुर आदि गांवों में नियमित रूप से सफाई नहीं होने की वजह से गांव के मुख्य रास्तों एवं गांव की गलियों में जगह-जगह गंदगी के अंबार लगे हुए हैं यमुना प्राधिकरण के इस लापरवाह रवैया से ग्रामीण परेशान हैं इस समस्या के समाधान हेतु करप्शन फ्री इंडिया संगठन के संस्थापक चौधरी प्रवीण भारतीय ने मुख्य कार्यपालक डॉक्टर अरुणवीर सिंह को संबोधित पत्र महाप्रबंधक केके सिंह को सौंपा।

करप्शन फ्री इंडिया संगठन के संस्थापक चौधरी प्रवीण भारतीय ने बताया कि यमुना प्राधिकरण के गांव जगनपुर अट्टा नौरंगपुर पट्टा फतेहपुर आदि गांवों में नियमित रूप से प्राधिकरण के कर्मचारी सफाई नहीं कर रहे हैं जिस वजह से गांव में जगह-जगह गंदगी के अंबार लगे हुए हैं गांव की नालियों में कीचड़ एवं मिटटी भरी हुई है जिस वजह से नालियों का पानी गांव के मुख्य रास्तों पर जलभराव की स्थिति में है। चौधरी प्रवीण भारतीय ने बताया कि गांव के लोग जब प्राधिकरण के सुपरवाइजर एवं अन्य अधिकारियों से गांव में सफाई की मांग करते हैं तो प्राधिकरण के कर्मचारी ग्रामीणों के साथ अभद्रता करते हैं जिसकी लिखित शिकायत मुख्य कार्यपालक महोदय से की है। चौधरी प्रवीण भारतीय ने कहा कि गांव में लारवा का छिड़काव फागिंग स्ट्रीट लाइट शीवर सड़कें आदि सभी मूलभूत समस्याओं के समाधान की मांग की है।

Related Articles

error: Content is protected !!
Close