उत्तरप्रदेशउत्तराखंड

कोरोना संक्रमण से बचाव ,बिट्टू कर्नाटका अल्मोड़ा

कोरोना संक्रमण से बचाव ,बिट्टू कर्नाटका अल्मोड़ा

कोरोना संक्रमण से बचाव ,बिट्टू कर्नाटका अल्मोड़ा

जग्गू बोहरा उत्तर प्रदेश उत्तराखंड

पूर्व दर्जा मंत्री बिट्टू कर्नाटक की सहयोगी टीमें जिनमें तीन-तीन सदस्य हैं द्वारा अल्मोडा विधानसभा के अन्तर्गत विभिन्न गांवों में कोरोना संक्रमण से बचाव एवं युवाओं/बालिकाओं को खेलों से जोडने हेतु जागरूकता अभियान चला रहे हैं । उनके द्वारा कोरोना महामारी की विषम परिस्थिति में युवाओं/बालिकाओं तथा महिलाओं को सामाजिक दूरी,मास्क का उपयोग करने तथा संक्रमण से बचाव,नशा /मादक पदार्थो से दूर रहने एवं खेलों से जुडने के लिये जागरूक किया जा रहा है । वे युवाओं / बालिकाओं को जागरूक कर रहे हैं कि समाज में व्याप्त नशे से दूर रहें और विभिन्न प्रकार के शारीरिक दक्षता के खेलों /व्यायाम को अपनाने के साथ ही कोरोना संक्रमण से बचाव के लिये सामाजिक दूरी का पालन करें और अनिवार्य रूप से मास्क का उपयोग करते हुये बच्चों को भी प्रेरित करें । सहयोगी टीम के सदस्यों द्वारा कोरोना संक्रमण से बचाव तथा खेलों से जुडने का आह्वान करने के साथ ही युवाओं/बालिकाओं को क्रिकेट,बैटमिंटन,फुटबाल,वालीबाल के किट भी उपलब्ध कराये । सहयोगी टीमों के सदस्य युवाओं/बालिकाओं को प्रोत्साहित कर रहे हैं कि खेल लक्ष्य निर्धारण,प्रेरणा की सबसे महत्वपूर्ण तकनीकों में से एक है । एक स्वस्थ्य खेल वातावरण खिलाडियों को प्रेरित करने के साथ ही स्वस्थ शरीर और दिमाग को विकसित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं । विभिन्न प्रकार के खेल हमारे शारीरिक के साथ मानसिक विकास में मदद करते हैं । जिस तरह दिमाग के सही विकास के लिये शिक्षा जरूरी है उसी तरह शारीरिक विकास के लिये खेल महत्पूर्ण हैं । शिक्षा के माध्यम से हम टीम भावना नहीं सीख सकते लेकिन खेल ये यह सम्भव है । युवाओं और बालिकाओं दोनों के लिये खेल गतिविधियों को बढ़ावा देने की आवश्यकता है । किसी भी व्यक्ति की सफलता मानसिक औार शारीरिक अर्जन पर निर्भर करती है । बहुत से राज्यों में युवाओं को नशे से हटाकर खेलों से जोडने की रणनीति बनायी जा रही है ताकि युवा स्वस्थ रहकर राज्य और देश के विकास में अपना योगदान दे सकें ,वहीं उनमें नेतृत्व की भावना विकसित होती है । यदि हम खेल का नियमित अभ्यास करें तो हम अधिक सक्रिय और स्वस्थ रह सकते हैं । स्वस्थ शरीर और मस्तिष्क प्राप्त करने के लिये सभी को किसी भी प्रकार की शारीरिक गतिविधियों में अवश्य शामिल होना चाहिये, जिसके लिये खेल सबसे अच्छा तरीका है ।
उन्होंने ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं से कहा कि नशा हमारे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को नष्ट करते हुये अनेक रोगों को जन्म देता है जिससे शारीरिक क्षति होती है ,कोरोना संक्रमण में इसके और भी अधिक दुष्परिणाम होते हैं । अतः नशा व मादक पदार्थो से दूर रहकर व्यायाम तथा विभिन्न प्रकार के खेलों से जुडें जिससे शारीरिक एवं मानसिक रूप से आप स्वस्थ्य रहेंगे और कोराना संक्रमण से बचाव करने में सक्षम होंगे । उन्होंने कहा कि भीड-भाड वाले स्थान पर जाने से बचें,सामाजिक दूरी व मास्क का पालन करने के साथ ही स्वच्छता का विशेष ध्यान रखें तथा अपने समय-समय पर अपने हाथों की सफाई करें ।
इस अवसर पर तीन-तीन सदस्यों की टीम में मनीष तिवारी,गौरव अवस्थी,शुभम जोशी,रोहित शैली,दिव्या पाटनी,किरन कोरंगा,रश्मि काण्डपाल,हर्षिता तिवारी आदि उपस्थित थे ।

 

Related Articles

error: Content is protected !!
Close